गाँधी जयंती पर मनाया गया ‘किसान एवं खेत मजदूर बचाओ दिवस’ कांग्रेसियों ने केंद्र पर जमकर बोला हमला

पथरिया

निगम मानिकपुरी

कांग्रेसियों ने गांधी और लाल बहादुर शास्त्री की जयंती को “किसान एवं खेत मजदूर बचाओ दिवस” के रूप में मनाकर केंद्र की मोदी सरकार के दमनकारी नीति व किसान विधेयक बिल खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर केंद्र सरकार को कोसा।

ब्लॉक कांग्रेस कमेटी पथरिया ने राज्य शासन के गाडलाईन/दिशा निर्देश व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए जिला कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर 2 अक्टूबर की महात्मा गांधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती के अवसर पर किसान एवं खेत मजदूर बचाओ दिवस मनाया।कार्यक्रम में सबसे पहले छायाचित्र पर माल्यार्पण कर भावभिनी श्रद्धाजंली देकर किसान एवं खेत मजदूर बचाओ दिवस का आगाज़ किया। धरना को सम्बोधित करते हुए नगर पंचायत अध्यक्ष ग्वाल दास अनंत ने केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि विधेयक को लेकर मचे घमासान के बीच इसे किसान विरोधी करार देते हुए केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला।केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों और किसान संगठनों से कोई चर्चा या सलाह किए बिना यह विधेयक लाया है।
वहीं जिला पंचायत सदस्य अंबालीका साहु ने कहा कि केंद्र सरकार के इस फैसले का चौतरफा देश में विरोध हो रहा है ।इस विधेयक से मंडियों की व्यवस्था पूरी तरह चरमरा जाएगी ।आज मंडियों के वर्तमान प्रणाली से उपज बेचकर किसान खुशहाल जिंदगी जी रहा है। कृषि क्षेत्र से जुड़े तीनों विधेयकों को लाने की जो साजिश की गई है।

जिला कांग्रेस कमेटी के सचिव संपत जायसवाल ने कहा कि भाजपा का गांव,गरीब और किसान विरोधी चेहरा उजागर हुआ है कार्यक्रम उपस्थित ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नेतराम साहु जिला पंचायत सदस्य वसी उल्लाह खान नगर पंचायत सरगांव अध्यक्ष राजू तिवारी लोकल आते ओमप्रकाश साहु संतोष वर्मा मुकेश साहू विनोद साहू दीपक साहू प्रेम भार्गव राजेंद्र गेंदले युगल किशोर वर्मा सैलानी बाबा बुधारी साहु आदि कांग्रेस ने कृषि और किसानों के हित में इस मसले पर मोदी सरकार का जबर दस्त विरोध किया साथ ही महामहिम राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.