लेखापाल की सेवानिवृत्ति पर आदिवासी विभाग ने दी भावपूर्ण विदाई!

बिलासपुर

ब्यूरो- आदिवासी विकास विभाग में पदस्थ लेखापाल उमाशंकर दुबे को सेवाकाल की समाप्ति पर विभागीय कर्मचारियो ने विदाई समारोह का आयोजन किया।इस आयोजन के द्वारा सेवानिवृत्त सहकर्मी को विभगीय कर्मचारियों ने भावपूर्ण विदाई दी।

आज जिले के आदिवासी विकास विभाग बिलासपुर के वरिष्ठ लेखापाल उमाशंकर दुबे, 38 वर्ष की सेवा पश्चात अधिवार्षिकीय आयु पूर्ण होने पर बिदाई दी गई । इस कार्यक्रम में सी0एल0 जायसवाल, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास बिलासपुर, श्रीमती जया सिंह प्राचार्य, मनोज श्रीवास्तव मुख्य कार्यपालन अधिकारी, के मुख्य आतिथ्य में सम्पन्न हुआ ।
सी0एल0जायसवाल द्वारा सेवा निवृत्त कर्मचारी को साल श्री फल देकर सम्मानित किए तथा सेवा निवृत्ति से सम्बंधित सभी राशियों का भुगतान किए । इस अवसर पर उन्होनेे कहा की कर्मचारी के सेवा निवृत्त के दिन ही सभी स्वत्वों का भुगतान हो जाय यही परीपाटी बनाना चाहिए । उन्होंने कहा इतने वर्षों की सेवा के बाद, हर किसी के जीवन में एक अपरिहार्य दिन ‘सेवानिवृत्ति’ है। बहुत से लोग सपने देखते हैं कि काम पर रहते हुए सेवानिवृत्ति के बाद क्या करेंगे लेकिन दुबे जी जीवन की दूसरी पारी शुरू करने के पूर्व ही अपने लिए कार्य चुन लिए है।

आपने परिवार की देखभाल करने के लिए कड़ी मेहनत एवम तपस्ता की है। अब समय आ गया है कि आप रुकें और आराम करें अपना कार्य करे ।हमारे कार्यलय परिवार की ओर से शुभकामनाये है कि आप विदा होकर जहाँ भी जाओगे जीवन में खुशियाँ ही पाओगे आपके।स्वस्थ, समृद्ध, दीर्घायु और खुशहाल जीवन की कामना करते है। इस अवसर पर कार्यक्रम का संचालन जगत मिश्रा कनिष्ठ लेखाधीकारी द्वारा किया गया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.