कोरोना की धमक से मुंगेली में दहशत, लखनऊ से लौटे मजदूर में दिखे लक्षण!

मुंगेली

नीलकमल ठाकुर

मुंगेली-कोरोना से सम्पूर्ण विश्व दहशत में है।इससे छत्तीसगढ़ अभी तक अछूता था।यद्यपि शासन द्वारा सावधानी के लिए सारे उपाय किये जा रहे है ,और पर्याप्त एहतियात बरते जा रहे हैं ।लेकिन इस बीच यूपी से आये एक मजदूर में कोरोना के लक्षण दिखाई देने से मुंगेली क्षेत्र में हड़कंप है।हालांकि अभी कोरोना की पुष्टि नही हुई है,फिर भी उसे आइसोलेशन में रखा गया है।

चीन के वुहान से शुरू कोरोना वायरस की आपदा पूरी दुनिया में महामारी बनकर फैल चुकी है। अब भले ही चीन में स्थिति नियंत्रण में बताई जा रही है लेकिन इटली, ईरान सहित दुनिया भर के 80 से अधिक देशों में इसका प्रकोप जारी है। छत्तीसगढ़ में हालांकि अब तक इसका एक भी पीड़ित सामने नहीं आया है लेकिन लगातार विदेशों और अन्य शहरों से प्रदेश में लौट रहे लोगों के संक्रमित होने की आशंका जाहिर की जा रही है ।इसी दौरान सर्दी खांसी बुखार से पीड़ित एक युवक मुंगेली में इलाज के लिए पहुंचा। उसमें कोरोना जैसे लक्षण पाए जाने पर उसे जिला अस्पताल के विशेष वार्ड में भर्ती कर उसका इलाज किया जा रहा है। पीड़ित को प्रशासनिक निर्देश के अनुसार आइसोलेटेड कर दिया गया है। पेशे से मजदूर यह युवक मजदूरी करने लखनऊ गया हुआ था , जहां उसकी तबीयत बिगड़ने पर वह अपने गृह ग्राम मुंगेली लौट आया। वही तबीयत नहीं सुधरने पर वह इलाज के लिए जिला अस्पताल पहुंचा। फिलहाल पीड़ित का सैंपल कलेक्ट कर उसे जांच के लिए रायपुर भेजा जा रहा है । जिसके पॉजिटिव या नेगेटिव होने के आधार पर ही आगे का इलाज किया जाएगा, लेकिन फिलहाल पूरी सावधानी बरते हुए संदिग्ध का इलाज अलग से वार्ड में किया जा रहा है। मुंगेली में कोरोना का यह संभावित पहला मरीज है जो बुधवार को ही लखनऊ से लौटा है। युवक को सर्दी के साथ बुखार भी है और उसके गले में खराश भी है। फिलहाल जिला अस्पताल में उसे भर्ती कर उसका इलाज तो किया जा रहा है लेकिन अगर युवक कोरोना पॉजिटिव पाया जाता है तो फिर यह पूरे इलाके के लिए तहलका मचाने वाली खबर होगी क्योंकि लखनऊ से मुंगेली तक की यात्रा के दौरान वह जिस जिस से संपर्क में आया है उन सभी के संक्रमित होने की आशंका है इसलिए लोग यही दुआ कर रहे हैं कि युवक कोरोना पॉजिटिव ना साबित हो। फिलहाल युवक का परिचय गुप्त रखा जा रहा है और उससे किसी को भी मिलने नहीं दिया जा रहा ।उम्मीद की जा रही है कि एक-दो दिनों में उसकी रिपोर्ट मुंगेली जिला अस्पताल को प्राप्त हो जाएगी। वहीं पीड़ित का ब्लड सैंपल नेशनल वायरल इंस्टीट्यूट पुणे स्थित लैब में भी भेजा जा रहा है, जहां से मिलने वाले रिपोर्ट के आधार पर ही उसके आगे का इलाज तय किया जाएगा ।फिलहाल मुंगेली में इसी वक्त के सामने आने से लोग घबराए हुए हैं। बताया जा रहा है कि पीड़ित मुंगेली के संगवा कापा गांव का रहने वाला है ,जो मजदूरी करने चंडीगढ़ और लखनऊ गया था और इलाज कराने मुंगेली लौटा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.