खैरी में हुआ गौरा- गौरी का विवाह और प्रतिमाओं का विसर्जन!

तख़तपुर

गोविंद सिंगरौल

ग्रामीण क्षेत्रों में पारंपरिक रूप से मनाया जाने वाला गौरा-गौरी के विवाह के उत्सव का आयोजन तख़तपुर ग्राम पंचायत खैरी में।किया गया।तीन दिनों तक चले इस आयोजन के बाद भगवान शिव रुपी गौरा और माँ पार्वती रूपी गौरी की प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया।खैरी के आदिवासी समाज द्वारा किये गए इस आयोजन में पूरी पंचायत की सहभागिता रही।

तखतपुर के ग्राम पंचायत खैरी में आदिवाई समाज द्वारा तीन दिनों तक गौरा-गौरी विवाह उत्सव का आयोजन किया गया।ग्राम के शिव चौक पर भगवान शंकर के गौरा रूप और माता पार्वती के गौरी स्वरूप की प्रतिमाएं स्थापित कर उनका प्रतीकात्मक विवाह कराया ।साथ मे नंदी, भीमसेन की प्रतिमाएं भी स्थापित की गई थी।तीन दिनों तक पूजा अर्चना करने और विवाह करने के पश्चात प्रतिमाओं के साथगाँव का भ्रमण किया गया।खैरी आदिवासी समाज के द्वारा आयोजित इस विवाहोत्सव में पुती ग्राम पंचायत की जनता ने सहभागी होकत उत्सव को सफल बनाया।भजन ,कीर्तन और बाजे गाजे के साथ जुन्ना तालाब में प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया।इस अवसर पर संतोष सिंगरौल सरपंच , रमेश मरावी उप-सरपंच , मनक मरावी, हीरालाल सिंगरौल, गिरधारी सिंगरौल, सनील साहू , चन्द्र मुनि मरकाम , तिलक मरकाम , राजू सिंगरौल , भोला सिंगरौल, विष्णु सिंगरौल पंच सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण और आदिवासी समाज के लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.