एक तरफा प्रेम में किये गए कत्ल का तीन साल बाद खुलासा, प्रेमिका से मिलने गए युवक की हुई थी हत्या!

बिलासपुर

ब्यूरो

बिलासपुर जिले के तख़तपुर जनपद क्षेत्र के ग्राम छिरहकापा में वर्ष 2019 में हुए एक युवक की हत्या के मामले में तीन साल बाद हत्या का आरोपी पुलिस गिरफ्त में आ गया है। युवक ने एक तरफ़ा प्रेम में वारदात को अंजाम देना स्वीकार कर लिया है।

तखतपुर जनपद क्षेत्र के ग्राम पंचायत पूरा के आश्रित ग्राम छिरहाकापा में 3 जून 2019 की दरमियानी रात एक युवक की हत्या का मामला तखतपुर थाने में दर्ज किया गया था पुलिस ने प्रकरण की जांच करने के बाद 3 साल बाद आरोपी को हिरासत में ले लिया है ।आरोपी ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है और बयान में बताया है कि उसने युवती से एक तरफा प्रेम के चलते लड़की से मिलने आए युवक को गमछे से नाक और मुँह को दबाकर हत्या कर दी थी।पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार तख़तपुर जनपद क्षेत्र के ही ठाकुरकापा का रहने वाला कालीचरण ध्रुव की लाश पूरा पंचायत के छिरहकापा के खेत मे मिला था।प्रकरण के पुलिस ने प्रथम दृष्टया हत्या का मामला मानकर विवेचना में लिया था।जांच के दौरान पुलिस का शक लड़की और उसके परिजनों पर गया था और उसी दिशा में जांच करती रही।लेकिन लड़की ने पुलिस को जो बयान दिया था ।उसने उसी पर कायम रहते हुए हत्या के खुलासा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और आरोपी तीन साल बाद ही सही पुलिस की पकड़ में आ गया।

फ़ाइल फ़ोटो

पूरे घटनाक्रम का विवरण देते हुए थाना प्रभारी एस आर साहू ने बताया कि मृतक कालीचरण ध्रुव उम्र 19 वर्ष ग्राम ठाकुरकापा का रहने वाला था।कालीचरण का पूरा पंचायत के छिरहाकापा की रहने वाली एक सजातीय लड़की से प्रेम संबंध था।वह अक्सर लड़की से मिलने छिरहाकापा जाता रहता था।घटना दिनाँक को भी वह लड़की के बुलाने पर ही रात में।मिलने गया था।आरोपी संतोष जगत उम्र 35 वर्ष लड़की के पड़ोस में रहता था।वह शादीशुदा था और उसकी पत्नी का देहांत हो चुका था।संतोष जगत लड़की को एक तरफा चाहता था और हमेशा उस पर बुरी नज़र रखता था। दिनाँक 2-3 जून 2019 को लड़की ने काली चरण को घर मे अकेले होने का हवाला देकर मिलने बुलाया।कालीचरण रात साढ़े 9 बजे के आसपास अपने दो दोस्तों के साथ लड़की से मिलने छिरहाकापा गया ।दोस्तो और मोटरसाइकिल को कुछ दूर खड़ी करके वह बाड़ी के रास्ते से लड़की के घर मिलने चला गया। रात लगभग सवा दस बजे कालीचरण लड़की से मिलकर वापस जाने निकला।आरोपी संतोष जगत, जो हमेशा लड़की के घर आने जाने वालों पर नजर रखता था पड़ोस में हो रहे छट्ठी कार्यक्रम में गया ।उसने कालीचरण को लड़की के घर से निकलते देख लिया और उसका पीछा किया ।कुछ दूर जाकर उसने पीछे से कालीचरण के मुँह और नाक को गमछे से दबा दिया।इससे कालीचरण की मौत हो गयी।उसके साथ आये दोस्त जगत ध्रुव को कालीचरण का पीछा करता देख भाग गए थे।लड़की ने भी दरवाजे पर खड़े हुए संतोष जगत को कालीचरण का पीछा करते देखा था और वह लगातार अपने बयान पर कायम थी।

आरोपी संतोष जगत


पुलिस जांच में प्रथम दृष्टया लड़की और उसके परिजनों पर ही शक किया जा रहा था इसलिए आरोपी पुलिस की पकड़ से बाहर था।जांच के दौरान आरोपी और साथ मे गांव के कुछ लड़कों को पुलिस थाने लाई भी थी लेकिन गांव वालों के कड़े विरोध के चलते सामान्य पूछताछ करके छोड़ देते थे।इस तरह पुलिस की जांच चलते और आरोपी के पकड़ में आते तक थाने मे चार प्रभारी बदल गए । अंततः आरोपी संतोष जगत को लड़की और उसके दोस्तों के बयान के आधार पर पकड़कर कड़ाई से पूछताछ करने पर अपना गुनाह कबूल कर लिया।पुलिस सोमवार को उसे रिमांड पर भेजने की तैयारी कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.