शासकीयकरण की मांग को लेकर पंचायत सचिवों ने दिया एक दिवसीय धरना।

तख़तपुर

ब्यूरो –

पंचायत सचिव शासकीयकरण की कर रहे है मांग।

कई विभागों के काम और शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन की है जवाबदारी

26 दिसंबर से करेंगे काम बंद -कलम बन्द अनिश्चित कालीन हड़ताल

पंचायत सचिवों ने शासकीयकरण के।लिए सौंपा ज्ञापनतख़तपुर जनपद अंतर्गत कार्य करने वाले पंचायत सचिवों ने आज जनपद कार्यालय के सामने एक दिवसीय धरना दिया।वे अपने शासकीय कारण की मांग को लेकर धरने पर बैठे थे।धरने के बाद तहसीलदार को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।

तख़तपुर जनपद पंचायत के अंतर्गत काम करने वाले पंचायत सचिवों ने अपने शासकीयकरण की मांग को लेकर जनपद कार्यालय के सामने एक दिवसीय धरने पर बैठे।पंचायत सचिव अपने शासकीयकरण की मांग कर रहे हैं। 14 दिसंबर को प्रांतीय बैठक में लिए गए निर्णय के अनुसार आज राज्य के सभी जनपद कार्यालयों के सामने धरने पर बैठे और उसके बाद मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया।ज्ञापन में सचिवों ने बताया कि पंचायत सचिव 29 विभागों के 200 से अधिक कार्यो को निष्ठापूर्वक संपादित किया जाता है।केंद्र और राज्य की योजनाओं को धरातल पर कार्यान्वित कर आम जनता तक उसके लाभ पहुंचाने की जवाबदारी भी सचिवों के द्वारा निभाया जाता है।उन्ही के साथ नियुक्त शिक्षा कर्मियों का शासकीयकरण किया जा चुका है।लेकिन सचिव आज भी शासकीयकरण की प्रतीक्षा में है।पंचायत सचिवों के शासकीयकरण के लिए प्रदेश के 65 विधायको द्वारा अनुशंसा पत्र भी दिय्य जा चुके है।अतः 2 वर्ष की परिवीक्षा अवधि पूरी करने वाले पंचायत सचिवों का शासकीयकरण करने की मांग की है।साथ ही चेतावनी दी है कि यदि उनकी बहुप्रतीक्षित मांगो को नही मानी जाती है तो वे उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य हो जाएंगे।26 दिसंबर से कम बन्द-कलम बन्द के साथ अनिश्चित कालीन आंदोलन पर चले जायेंगे।इस अवसर पर आर एल सिंगरौल अध्यक्ष पंचायत सचिव संघ ब्लॉक तखतपुर ,कृष्ण कुमार कौशिक सचिव पंचायत सचिव संघ तखतपुर,हरप्रसाद भास्कर ,धर्मेंद्र पटेल, मनमोहन टंडन, बृजेश साहू, सुखनंदन सिंगरौल, ध्रुव कुमार कश्यप, शिव कुमार कश्यप, राधे लाल चतुर्वेदी,अशोक कौशिक, राजकुमार खुटियारे, टाइम लाल कौशिक, संतोष कौशिक, राजकुमार सेंगर, ईश्वर सिंह क्षत्रिय, सुरेश मिश्रा, मनहरण सिंह ध्रुव, अनवर अली, मोहन कौशिक,अशोक कौशिक, ध्रुव कुमार कश्यप, अक्षय श्रीवास सहित बड़ी संख्या में पंचायत सचिव उपस्थित थे

पहले भी विधायक को सौंप चुके हैं ज्ञापन

अपनी मांगों को लेकर धरने पर बैठे पंचायत सचिवों ने 18 दिसंबर को विधायक निवास जाकर विधायक के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंप चुके है।वहाँ पर उन्होंने अपनी बात पीसीसी सचिव आशिष सिंह के सामने रखी थी ।सचिवों की बातों पर पीसीसी सचिव आशिष सिंह ने उनकी मांगों को सरकार तक पहुंचाने का आश्वासन दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.