भाजपा पार्षदों के आरोप सीएमओ कर रही मनमानी,नंबर प्लेट लगाने में हुआ भ्रष्टाचार।

तख़तपुर

ब्यूरो –

तख़तपुर नगर पालिका में भाजपा पार्षदों ने मकानों में लगाये जाने वाले नंबर प्लेट लगाने के ठेके दिये जाने की प्रक्रिया को गलत बताते हुए फ़र्ज़ी प्रस्ताव से कार्यादेश जारी करने का आरोप लगाया है।साथ ही ठेकेदार द्वारा गुणवत्ताहीन नंबर प्लेट लगाकर लोगो से अधिक रकम वसूल किये जाने का आरोप लगाते हुए ठेका निरस्त करने की मांग की है।

नगरपालिका द्वारा मकानों के पहचान के लिए लगाए जाने वाले नंबर प्लेट को लेकर अपनाई गई प्रक्रिया पर भाजपा पार्षदों ने सवाल खड़ा कर दिया है।उन्होंने पत्र लिखकर आरोप लगाया है कि नगर में मकानों के नंबर प्लेट लगाने के लिए बिना टेंडर प्रक्रिया किये और फर्जी प्रस्ताव से कार्यादेश जारी कर न केवल मनमानी प्रवृत्ति को बढ़ावा दिया है बल्कि भ्रष्टाचार को भी प्रश्रय दिया है।भाजपा पार्षदों ने यह भी आरोप लगाया है कि जिस संस्था को यह काम दिया गया है ,उसके द्वारा नगर की जनता के साथ ठगी की जा रही है।नगर पालिका द्वारा सिल्वर के नंबर प्लेट की दर 50 रुपये निर्धारित कर लगाने को कहा था।लेकिन काम करने वाली संस्था बीड का नंबर प्लेट लगा रही है,जिसका अधिकतम बाज़ार मूल्य 20 है।वही वह नगर की जनता से सिल्वर के प्लेट की कीमत वसूल कर 50 रुपये का रसीद काट रही है।इस तरह जनता से ढाई गुना अधिक रकम ली जा रही है। भाजपा पार्षदों ने आरोप लगाया है कि इस कार्य के विषय मे न ही सामान्य सभा में कोई प्रस्ताव लाया गया था और न ही पार्षदों को इसकी सूचना दी गयी थी।अपने चहेते ठेकेदार को काम देने के लिए गुपचुप तरीके से बिना कोई सूचना दिये फर्जी प्रस्ताव से कार्यादेश जारी कर दिए गए हैं।भाजपा पार्षद दल ने मांग की है कि इस कार्यादेश को निरस्त कर ।नया प्रस्ताव लाकर सभी की सम्मति से कार्यादेश जारी किया जाए,और ठेकेदार द्वारा वसूली गयी अधिक रकम को नगर के लोगो के करो में समायोजित किया जाए।ज्ञापन सौंपने के दौरान भाजपा पार्षद दल के नेता प्रतिपक्ष ईश्वर देवांगन, पार्षद नैन लाल साहू, पार्षद कोमल ठाकुर, पुष्पा नरेंद्र रात्रे,प्रतिभा काशी देवांगन, शिव देवांगन, अमरिका कृष्ण कुमार साहू उपस्थित रहे

तीखे प्रश्न (शीतल चंद्रवंशी सीएमओ नगर पालिका तख़तपुर से)

प्रश्न – मकानों के नंबर निर्धारित कर नंबर प्लेट लगाने के काम के लिए टेंडर नही निकाला गया है

जवाब – इच्छुक व्यक्तियों से भाव पत्र मंगाए गए थे तीन लोगों ने अपने अपने भाव भर कर दिए थे जिसका न्यूनतम था उसे काम दिया गया है।

प्रश्न- किस समाचार पत्र में टेंडर निकलवाया गया था?
जवाब- कार्य बहुत छोटे अमाउंट का है इसलिए टेंडर निकालने की आवश्यकता नहीं थी। कार्यालय के सूचना पटल पर सूचना चस्पा कर भाव आमंत्रित किए गए थे,जिसमें 3 लोगों ने भाव दिए थे।

प्रश्न- बीड का प्लेट लगाकर सिल्वर की रसीद काटी जा रही है।
जवाब- कार्यालय में जाकर फाइल देखकर ही बता पाऊंगी कि किस नंबर प्लेट की कितनी राशि हैं । कौन से मटेरियल का नंबर प्लेट लगाने का कार्य आदेश जारी हुआ है और कितने रुपए की रसीद काटी जानी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.