नशीला पदार्थ सुंघाकर नाबालिक के साथ किया अनाचार,आरोपी गिरफ्तार।

तख़तपुर

ब्यूरो –

जुनापारा चौकी अंतर्गत पाली में एक नाबालिग लड़की से अनाचार मामला सामने आया है।आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है ।पीड़िता का मेडिकल जांच और बयान दर्ज किया जाना बाकी है।इसके लिए पीड़िता को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तख़तपुर भेज जाएगा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जुनापारा चौकी क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पाली में एक 13 वर्षीय नाबालिक लड़की के साथ अनाचार की शिकायत जुनापारा चौकी में कई गयी है।मामले में पीड़िता के परिजनों और गाँव वालों के बताये अनुसार नाबालिक लड़की के माता पिता और उसकी बुआ पाली में ही रहते है।शुक्रवार को शाम 7 बजे के आसपास वह अपने नाना के यहां से अपनी माँ के घर जाने के लिए निकली थी कि बीच रास्ते मे आरोपी विजय माधो बाजपेयी पिता अचल माधो उम्र 37 वर्ष निवासी पाली थाना तख़तपुर ने पीछे से आकर गमछे में कुछ नशीला पदार्थ मिलाकर नाक में लगा दिया,जिससे वह बेहोश हो गयी ।एक डेढ़ घंटे बाद जब लड़की वापस नही आई तो उसके भाई लोग लड़की के फुफ़ा के यहां पूछने गए ।वहां उसके नही आने की जानकारी मिली, तो सब ढूढने लगे।ढूंढते हुए लड़की की माँ आरोपी के घर के पास से गुजरी तो उसे अंदर से लड़की का फ्रॉक दिखाई दिया।आरोपी के घर के अंदर जाकर देखा तो लड़की बेहोश पड़ी हुई थी।इस बात की जानकारी परिवार के साथ गाँव के अन्य लोगों को भी दिया।गाँव के लोगो ने आरोपी की पिटाई करने के साथ डॉक्टर बुलाया गया।डॉक्टर ने जांच उपरांत लड़की को नशीला पदार्थ सुंघाए जाने की वजह से बेहोशी होना बताया।इस बीच जुनापारा चौकी को सूचना देकर पीड़िता को 108 के माध्यम से लोरमी स्वास्घ्य केंद्र ले जाया गया,जहाँ पीड़ित का उपचार किया गया।शाम तक चौकी में परिजनों द्वारा एफआईआर दर्ज कराया गया।पीड़िता के परिजनो का आरोप है कि उनकी लड़की के साथ आरोपी ने दुष्कर्म किया है।पीड़िता की मेडिकल जांच के लिए तख़तपुर भेजने के लिए रतनपुर से महिला पुलिस बुलाया गया ,क्योंकि तख़तपुर थाने की एक मात्र महिला पुलिस कर्मी आज छुट्टी पर थी।फिलहाल पुलिस ने आरोपी के विरुद्ध आईपीसी के तहत बलात्कार का और पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है।आज पुलिस पीड़िता का बयान दर्ज कराएगी।

खलती है महिलाकर्मियों की कमी!

तख़तपुर क्षेत्र के थाने में महिला पुलिसकर्मी की कमी हर बार महसूस की जाती है।तख़तपुर थाने में अभी एक मात्र महिला पुलिस आरक्षक पदस्थ है।जबकि तख़तपुर थाना क्षेत्र बड़ा है ।इसमे जुनापारा चौकी का क्षेत्र भी शामिल है।जब कभी भी कोई रेड करनी हो या महिलाओं से जुड़े किसी अपराध की विवेचना,पूछताछ और मेडिकल जांच करनी हो। महिला पुलिसकर्मी का होना आवश्यक है।यदि उपलब्ध एकमात्र महिला कर्मी छूट्टी या किसी अन्य कारण से नही रहती है। तो दूसरे थानों से महिला कर्मी बुलाना पड़ता है।ऐसे में जांच और कार्यवाही में विलंब होता है।तख़तपुर थाना क्षेत्र में कम से कम दो महिला पुलिस कर्मी की पदस्थापना होनी आवश्यक है,जिससे न केवल पुलिस कार्यवाही में सहूलियत हो बल्कि पीड़ितों और उनके परिजनों को भी इधर उधर भटकना नही पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.