जस गीत में झूमते गाते भक्तों ने माता को किया विदा, नवरात्रि के मूर्तियों का हुआ विसर्जन

तख़तपुर

गोविंद सिंगरौल –

ग्राम पंचायत गिरधौना में नौ दिनों की सेवा के पश्चात आज माता की मूर्तियों का विसर्जन किया गया।भक्तों ने ढोल नगाड़े के साथ भजन कीतर्न करते हुए गाँव में भव्य झांकी निकाली ,जो गाँव की हर गलियों से गुजरा।गिरधौना में इस कोरोना काल मे भी तीन स्थानों पर माता की मूर्तियां स्थापित की गई थी।

शारदीय नवरात्रि 9 दिनों तक मां दुर्गा की आराधना के बाद गाजे-बाजे के साथ दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। सोमवार को प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया ।विसर्जन के लिए माता की मूर्तियों की आकर्षक झांकी निकाली गयी,जो गाँव के हर चौक चौराहे से गुजरी। इस झांकी के साथ बड़ी संख्या में श्रद्धालु भक्तगण मां दुर्गा के जस गीत गाते हुए आगे पीछे झूमते रहे।झांकी देखने के लिए लोगो का तांता लगा रहा।इस वर्ष कोरोना काल के बावजूद गिरधौना में शिव चौक ,गुड़ी चौक, महामाया चौक तीनो जगह पर माँ दुर्गा बैठाया गया था।गाँव मे निकली माता की झांकी में विराजमान मां जगदम्बा की जगह – जगह आरती उतारी गई और प्रसाद का वितरण किया गया। इस विसर्जन यात्रा के दौरान भक्तों का उल्लास देखते ही बन रहा था। आगे-आगे मांदर की ताल बजाते हुए और झाज मंजीरा की धुनों पर थिरकती युवाओं की टीम चल रही थी तो पीछे-पीछे जय माता दी के जयकारों के साथ प्रतिमाएं निकल रही थीं। विसर्जन जुलूस शिव चौक , गुड़ी चौक महामाया चौक ठाकुर देव चौक चंडीदेवी मंदिर मेन रोड होते हुए बैत तालाब में पहुंचा,जहाँ माता की मूर्तियों का विसर्जन किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.