प्रेम विवाह में असफल युवक ने दी अपनी जान,सास ,पत्नी और उसके प्रेमी को बताया कारण!

तख़तपुर

राजेन्द्र प्रजापति

पापा ! मैं ज़िन्दगी से जंग हार गया पापा।आज मैं आपकी बातों को माना होता तो,न मैं इन गंदी लड़कियों से शादी करता।न उन लोगो के झांसे में फंसता पापा।उन लोगो ने मेरा गलत इस्तेमाल किया पापा।खुद वो गलत थी। गलत-गलत लोगों से बातें करती थी।उसी की वजह से मैने अपना नौकरी छोड़ा ।और वो अपने घर मे ले जाकर गलत इस्तेमाल किया।मुझे फंसाकर,मुझे रात को भगा दिया,पापा।
यह बातें प्रेम विवाह में असफल युवक ने अपनी ज़िंदगी समाप्त करने से पहले व्हाट्सअप और फेसबुक पर स्टेटस वीडियो डालकर अपने पिता से कही है।30 सेकंड के इस वीडियो में वह अपने पापा की सलाह नही मानने के लिए पछता रहा है।

तखतपुर थाना के जुनापारा चौकी क्षेत्र के इमलीपारा में आज एक 23 वर्षीय युवक ने बबुल के पेड़ में नायलोन की रस्सी से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।आत्महत्या से पहले युवक ने अपनी मौत के लिए अपनी पत्नी , सास ,बबन और एक पुलिस वाले युवक जिसका नाम जीना अनंत बताया जा रहा है को उत्तरदायी बताया है।फिलहाल पुलिस ने आत्महत्या का मामला दर्ज कर लिया है और जांच के बाद दुष्प्रेरणा की धाराएं भी जोड़ी जा सकती है।

जुनापारा चौकी और सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार सूचक बल्लू रात्रे पिता संतराम 31 वर्ष साकिन ढनढन ने चौकी में सूचना दी कि उसके चचेरे भाई शैलेन्द्र रात्रे पिता हरलाल रात्रे उम्र 23 वर्ष साकिन ढनढन हाल मुकाम इमलीपारा का शव धूमा खार के बबूल पेड़ पर फांसी पर लटका हुआ है।मर्ग की सूचना पर पहुंची पुलिस ने लाश का पंचनामा बनाकर पोस्टमॉर्टेम के लिए भेज दिया है।

घटना 17 और 18 सिंतबर के दरम्यानी रात की है। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार ढनढन के रहने वाले शैलेन्द्र रात्रे की शादी धूमा इमलीपारा की सीमा पाटले उर्फ सोनी से हुई थी।दोनो के आपसी प्रेम सबंध को देखते हुए घरवालो ने उनकी शादी बेलपान में कराई थी।परिजनों ने बताया है कि सीमा ससुराल नही जाती थी।इसके कारण शैलेन्द्र उसे लेकर बिलासपुर में रहने लगा। वहां एक मेडिकल एजेंसी में काम करने लगा।लेकिन पत्नी के बार बार कहने के कारण वह नौकरी छोड़ कर अपने ससुराल में रहने लगा था।जहाँ उसकी पत्नी सीमा,सास अहिल्या पाटले और डेढ़ सास सुमन, लगातार मानसिक रूप से प्रताड़ित करते थे।वही परिजनों ने बताया कि शैलेन्द्र बता रहा था कि उसकी पत्नी दूसरे लड़को से भी फेसबुक और फ़ोन से बातें करती है ।मना करने पर नही मानती और अपनी ज़िंदगी अपनी मर्जी से जीने की बात करती है।लोकबन्द के एक पुलिस वाले जीना अनंत के साथ वह लगातार बात करती है और उससे मिलने के लिए भी कहती है।घटना दिनांक की रात को भी उसकी पत्नी, सास और डेढ़ सास ने उसे घर से निकाल दिया था ।इसके कारण उसने अपने आप को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

पत्नी के स्वच्छन्द विचार और मातृ प्रेम पड़ा भारी

उसकी पत्नी सीमा अपनी माँ के साथ अपने मायके में रहना चाहती थी। इसलिए अपने प्यार के कारण शैलेन्द्र भी अपने ससुराल में ही रहने लगा।लेकिन उसकी पत्नी सीमा शैलेन्द्र के मना करने के बाद भी सोनी पाटले नाम से फेसबुक आईडी बनाकर दूसरे लड़कों से चैट करती थी और उसे अपना नंबर देकर बात करने और मिलने के लिए बोलती थी ।उसकी हरकत का पता लगाने शैलेन्द्र ने भी अपनी फेक आईडी बनाकर उसके साथ फेसबुक पर चैटिंग की।तो उसे पता चला कि लोकबन्द का कोई पुलिस वाला फेसबुक चैटिंग के अलावा फ़ोन पर भी बातें करता है।घटना दिनांक को भी उसका फ़ोन आया था।दुसरो से बात करने से मना करने पर सीमा उसे पानी ज़िन्दगी अपनी मर्ज़ी से जीने की बात करती थी।घटना दिनांक की रात को उसकी सास और डेढ़ सास ने उसके माँ बाप को भला बुरा कहकर गालियां दी जो उसे सहन नही हुआ।मगर मना करने के बाद भी प्रेम विवाह करने के कारण शर्म से वह अपने पिता के पास घर नही जा सका ।और व्हाट्सअप और फेसबुक पर वीडियो स्टेटस डालकर अपनी इह लीला समाप्त कर ली।

यह लिखा है सुसाइड नोट में

अपने सुसाइड नोट में उसने परिजनों द्वारा बताई गई बातों का भी जिक्र किया है। अपने मरने से पहले लिखे सुसाइड नोट में उसने बताया है कि


मैं शैलेंद्र रात्रि जो आज रात को अपने ससुराल अमलिकापा धूमा से अपनी पत्नी सीमा रात्रे से अपनी मजबूरी में उन लोगों उनकी मां अहिल्या पाटले और बड़ी बहन सुमन लहरें ने मुझे जोर जबरदस्ती मेरे मां बाप को गाली दिया और जो हर बेटे की तरह मुझे भी सहन नहीं हुआ।तो उसकी बेटी सीमा उर्फ सोनी ने मेरे साथ जोर जबरदस्ती किया और मुझसे तलाक के कच्चा कागज बनाकर तलाक दे दिया।हम दोनों ने अपनी मर्जी से शादी किया था, जो उसकी मां को मंजूर नहीं था। और मुझे हमेशा नीचा दिखाना चाहता था दिखा रहा था। पर आज दिनांक को मेरी पत्नी ने हमेशा मना करने के बाद भी फेसबुक में अपनी आईडी बना रखी थी। सोनी पाटले के नाम से जिसमें वह लड़कों से बातें किया करते थे। पर उसको यह पता नहीं था कि उसका फेसबुक मैं भी खोल सकता था। और उसकी सारी बातों को पढ़ सकता हूं जिसमें एक फर्जी आईडी मेरा था कि मैं यह जानना चाहता था कि वह किस हद तक बात करता है ।पर पता चला वह तो लोगों को अपना फोन नंबर देता है। और उनसे मिलने का वादा भी करता है। पर मैं उसको वक्त रहते रोक दिया, तो बोलता है मेरी लाइफ किसी के साथ भी जो करूं आपको क्या। बस इसी वजह से वह शादी के बाद अपने मां के घर रहना चाहती है। मेरे मना करने के बाद भी पर उसके प्यार के खातिर उसी के घर रहा। अपने मां बाप को छोड़कर उसी का काम भी करता था, जो सीएससी में लगा है। और उसका सारा पैसा वह अपने मां को देता है। फिर भी वह नहीं बोला पर। किसी दूसरे के साथ आज काल भी आया जीना अनंत नाम का, जो लोकबंद का पुलिस वाला हूँ बोला।फेसबुक में और मेरी बीवी से बात किया है ।मेरे मना करने के बाद भी वह नहीं माना।तब मुझे ए काम करना पड़ा क्योंकि घर किस मुंह को लेकर जाऊं। मां-बाप के पास शर्म के मारे नहीं जा सकता हूं।

फेसबुक में लिखा मरने की वजह

मृतक शैलेन्द्र ने मरने से पहले फेसबुक पर अपने मरने के पीछे उन कारणों का खुलासा तो नही किया है।लेकिन उन लोगो का नाम लिखा है जिनकी वजह से उसने आत्महत्या की है। शानू रात्रे नाम से बनाये गए फेसबुक एकाउंट पर उसने अंग्रेजी अक्षरों में लिखा है
मेरी मारने की वजह मेरी बीवी और उसकी माँ और बहन और जीना अनन्त है,जो जो लोक

Leave a Reply

Your email address will not be published.