व्याख्यता संघ ने एनआईओएस डी एलएड प्रशिक्षकों के मानदेय को लेकर सौंपा ज्ञापन!

बिलासपुर

ब्यूरो- एनआईओएस के द्वारा सम्पन्न कराए गए शासकीय अशासकीय स्कूलों के सभी अप्रशिक्षित शिक्षकों के डी एलएड के प्रशिक्षकों का मानदेय आज पर्यन्त अप्राप्त है।इस विषय को लेकर कर व्याख्यता संघ ने अतिरिक्त संचालक को ज्ञापन सौंपते हुए शीघ्र भुगतान कराने की मांग की है।

आरटीई के मापदंड को पूरा करने के लिए केन्द्र सरकार द्वारा एनआईओएस के माध्यम से सभी शासकीय और अशासकीय विद्यालयों के अप्रशिक्षित शिक्षकों को प्रशिक्षण देकर डी एलएड का कोर्स कराया था।इस प्रशिक्षण के लिए सरकार द्वारा छः हजार प्रति वर्ष के हिसाब से कुल 12 हजार रुपये और परीक्षा फीस अतिरिक्त लिया गया था। इस प्रशिक्षण कार्य मे महित भूमिका निभाने वाले केंद्र प्रभारी, प्रशिक्षकों, समन्वयको,लिपिकों और भृत्यों का मानदेय आज पर्यन्त तक एक वर्ष बीत जाने के बाद भी नही दिया गया है।जबकि अवकाश के दिनों में भी इनसे काम लिया गया था।इसके लिए व्याख्यता संघ ने मोर्चा खोल दिया है।आज छत्तीसगढ़ व्याख्याता संघ के प्रदेश अध्यक्ष राकेश शर्मा प्रवक्ता जितेंद्र शुक्ला महामंत्री अभय मिश्रा राजीव वर्मा ने अतिरिक्त संचालक आर एन सिंह को ज्ञापन सौंपा है। ज्ञापन में संघ ने बताया है कि पूरे प्रदेश में शिक्षकों को प्रशिक्षित करने के लिए डाइट बीटीआई हायर सेकेंडरी हाई स्कूलों को प्रशिक्षण केंद्र बनाया गया था। जिसमें अशासकीय एवं शासकीय विद्यालयों में अप्रशिक्षित शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया गया। शिक्षक प्रशिक्षित हो गए उन्हें प्रमाण पत्र मिल गया ।लेकिन इस प्रशिक्षण को संचालित करने में पूरे जी-जान से लगे रहे लोगो का मानदेय आज भी लंबित है। संघ ने मानदेय दिलाने की व्यवस्था किए जाने की मांग की है। इस पर अतिरिक्त संचालक ने कहा कि एन आई ओ एस को पत्र भेजा जाएगा और मानदेय को दिलाने के लिए पहल की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.