रीता सिंह को मिली डॉक्टरेट की उपाधि

बिलासपुर

सूरज सिंह-बिलासपुर की यदुनंदननगर तिफरा की रहने वाली रीता सिंह को पीएचडी की उपाधि मिल गयी है।डॉ सीवी रमन विश्वविद्यालय से उन्हें यह उपाधि शिक्षा शास्त्र में अभिभावक सहभागिता एवं परीक्षा दुश्चिंता का विद्यार्थियों की शैक्षिक उपलब्धि पर प्रभाव का अध्यय” विषय पर दिया गया है।

तिफरा यदुनंदन नगर बिलासपुर की रहने वाली रीता सिंह अब केवल रीता सिंह नही रही वह डॉक्टर रीता सिंह हो गयी है।उन्हें डॉ सी.वी. रामन विश्वविद्यालय, कोटा, बिलासपुर, (छत्तीसगढ़) के द्वारा डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी (पी-एच.डी.) की डिग्री प्रदान की गयी है।डॉ रीता सिंह स्वर्गीय बिंदेश्वरी सिंह एवं शारदा देवी की पुत्री हैं, सतीश सिंह राणा की पत्नी हैं, एवं सतीश सिंह , समीर सिंह की बहन है । इनका पी-एच.डी. का विषय शिक्षा शास्त्र एवं टॉपिक है “अभिभावक सहभागिता एवं परीक्षा दुश्चिंता का विद्यार्थियों की शैक्षिक उपलब्धि पर प्रभाव का अध्ययन” था। इनकी रिसर्च सुपरवाइजर डॉ पार्वती यादव एवं स्वयम कुलपति डॉ पी.के नायक, सी.वी. रामन विश्वविद्यालय, कोटा ,बिलासपुर( छ. ग) रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.