सोनिया गांधी ने किया ऐलान ,प्रवासी मजदूरों का परिवहन खर्च काँग्रेस देगी।

बिलासपुर

ब्यूरो-(नई दिल्ली) अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सोनिया गांधी ने आज लॉक डाउन में फंसे मजदूर जो अपने घरों से दूर है ,या अन्य प्रान्तों में है ,उनके घर वापसी के लिए बड़ी घोषणा की है।उन्होंने कहा कि सभी प्रान्तोंमें कांन्ग्रेस संगठन मजदूरों को उनके गन्तव्य निवास तक पहुचाएंगे और उसमे जो खर्च होगा उसे वहन करेंगे।

सोनिया गांधी के निर्णय का स्वागत करते हुए प्रदेश उपाध्यक्ष अटल श्रीवास्तव, ज़िला अध्यक्ष विजय केशरवानी,शहर अध्यक्ष प्रमोद नायक,प्रदेश महामंत्री अर्जुन तिवारी,प्रदेश प्रवक्ता अभय नारायण राय ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा देश के श्रम साधको का सम्मान किया है ,जिन्होंने विषम परिस्थितियों में ,अथक मेहनत कर राष्ट्र निर्माण में अपना अप्रत्यक्ष -प्रत्यक्ष योगदान देता रहा है।कांन्ग्रेस ने यू पी ए सरकार के समय उन श्रम वीरो को उनके ही गांव में रोजगार मिले इसलिए रोजगार गारंटी योजना मनरेगा शुरू की । आज देश कोरोना वायरस के कारण भय और संयम में जीने को मजबूर है ।ऐसे समय मे अचानक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लॉक डाउन की घोषणा ने देश मे गरीब ,मजदूर,असहाय लोगो को दुविधा में डाल दिया ,जिसमे मजदूर वर्ग ज्यादा प्रभावित और पीड़ित हुआ है।इस अव्यवहारिक निर्णय से जो जहाँ रहा वही फंसा हुआ है। उनके खाने, रहने ,की व्यवस्था को लेकर केंद्र ने कुछ नही कहा।जबकि उनके पास न तो रहने के लिए जगह है,न खाने के लिए पैसा।छोटे छोटे बच्चे,भूख मरने के लिए विवश है।


लॉक डाउन 3.0 की घोषणा के बाद केंद्र सरकार ने मजदूरों को उनके वापसी में ढील तो दी ,पर उनके ट्रैन का किराया कौन देगा इस पर कोई चर्चा नही की ,जो गम्भीर चिंतन का विषय है।
कांन्ग्रेस ने कहा कि ,सोनिया गांधी ने मजदूरों को उनके घर तक पहुचाने का साहसिक निर्णय ली और उनके ट्रैन खर्च कांन्ग्रेस के प्रदेश इकाई को सौंपी है । प्रदेश उपाध्यक्ष अटल श्रीवास्तव ने कहा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और संगठन प्रमुख मोहन मरकाम ने इस ओर पहले ही कार्यवाही प्रारंभ कर दिया है ।दूसरेे राज्यों मैं फंसे मजदूरों के लिए 6 आई ए एस अधिकारियों को प्रभार देकर उनका मोबाइल नम्बर जारी किया जा चुका है। राजीव भवन रायपुर में हेल्प डेस्क बनाया गया है जहां छत्तीसगढ़ के मजदूर या अन्य प्रान्त के मजदूर अपना नाम ,प्रान्त व अन्य जानकारी दे सकते है ।
अटल श्रीवास्तव ने कहा कि छत्तीसगढ़ के भाजपा नेता संकट काल में भी बयान बाजी में लगे हुए है ,उन्हें न तो छत्तीसगढ़ की जनता का फिक्र है और न ही उन मजदूर भाइयो की चिंता है जो अपने घर से दूर संकट में है। भाजपा अख़बार के माध्यम से ही जनता सेवा करना जानती है ,इसलिए संकट समय का राजनैतिक लाभ ले ने के लिए बयान बाजी कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *